Home » OTHER » भाजपा के बागी उम्मीदवार बनेंगे संदीप गुप्ता

भाजपा के बागी उम्मीदवार बनेंगे संदीप गुप्ता

समर्थकों से बैठक में चर्चा के बाद 23 को नामांकन करने का निर्णय

ऋषिकेश।
गुमानीवाला स्थित आडवानी धर्मशाला में भाजपा नेता संदीप गुप्ता ने भाजपा कार्यकर्ताओं और समर्थकों के साथ बैठक की। स्थानीय व्यक्ति को टिकट न देने से नाराज कार्यकर्ताओं ने टिकट बदलने की मांग हाईकमान से की है। टिकट नहीं बदलने पर भाजपा नेता संदीप गुप्ता ने बतौर निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतरने की घोषणा की। निर्णय लिया गया कि टिकट नहीं बदला गया तो 23 तारीख को नामांकन कराएंगे।
आडवानी धर्मशाला में गुरुवार को ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के भाजपा कार्यकर्ताओं ने बैठक की। भाजपा नेता संदीप गुप्ता, पूर्व जिलाध्यक्ष गोबिन्द अग्रवाल, ज्योति सजवाण, जयदत्त शर्मा, किशन नेगी, भाग सिंह चौहान, भोला सिंह रावत, पुष्पा मित्तल, श्रवण जैन आदि ने संगठन के निर्णय पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि भाजपा संगठन लगातार दो बार से बाहरी व्यक्ति को टिकट दे रहा है। कार्यकर्ताओं ने संगठन का सम्मान करते हुए भाजपा प्रत्याशी को जीत भी दिलाई लेकिन जीतने के बाद उन्होंने कार्यकर्ताओं को हाशिए पर रखा। गंभीर आरोप लगाते हुए वक्ताओं ने टिकट बदलने की मांग की।
कार्यकर्ताओं से चर्चा के बाद निर्णय लिया गया कि अगर संगठन अपना निर्णय नहीं बदलता है तो कार्यकर्ता अपना निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतारेंगे। तय किया गया कि भाजपा नेता संदीप गुप्ता बतौर निर्दलीय प्रत्याशी 23 तारीख को नामांकन कराएंगे। मौके पर भाजयुमो के पूर्व प्रदेश महामंत्री मनोज जखमोला, सत्यवीर तोमर, सतीश पाल, संजय व्यास, पूरन पंवार, राकेश पारछा, हरीश तिवाड़ी, दीनदयाल राजभर, हरीश उप्रेती, बलबीर चौहान आदि मौजूद रहे।

संगठन महामंत्री निशाने पर
भाजपा कार्यकर्ताओं ने भाजपा संगठन महामंत्री रामलाल और संजय गुप्ता को निशाने में लिया। कहा कि स्थानीय नेताओं में किसी को भी टिकट दे देते लेकिन जिस नेता को डोईवाला की जनता ने वार्ड मेंबर तक जीतने नहीं दिया, ऋषिकेश के कार्यकर्ताओं ने उसे दो बार विधायक बनाया। कार्यकर्ताओं से रायशुमारी और जनभावनाओं का सम्मान नहीं किये जाने के आरोप भी संगठन पर लगाए।

भाजपा के समीकरण बिगड़ने के आसार
भाजपा नेता संदीप गुप्ता के बतौर निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतरने से भाजपा के समीकरण बिगड़ सकते हैं। गुरुवार की बैठक भाजपा के ऐसे चेहरे शामिल रहे, जिन्हें भाजपा अपनी रीढ़ बताती आई है। खुले मंच से बगावत का बिगुल फूंकने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं का रोष केवल ऋषिकेश विधानसभा को लेकर ही नहीं था। बागियों को लेकर भी भाजपा कार्यकर्ता व्यथित दिखा।


Leave a Reply