Home » TRENDING » ऑस्ट्रेलिया ने तोड़े भारत के दो बड़े रेकॉर्ड

ऑस्ट्रेलिया ने तोड़े भारत के दो बड़े रेकॉर्ड

ऑस्ट्रेलिया ने निर्धारित 50 ओवरों में 6 विकेट खोकर 417 रन बनाए। 
ऑस्ट्रेलिया ने निर्धारित 50 ओवरों में 6 विकेट खोकर 417 रन

 

डेविड वॉर्नर के 178 रन की मदद से ऑस्ट्रेलिया ने विश्व कप पूल ए मैच में अफगानिस्तान की अनुभवहीन गेंदबाजी को धता बताते हुए रनों का अंबार लगाने के बाद रेकॉर्ड 275 रन के अंतर से जीत दर्ज की। यह विश्व कप में सबसे बडी जीत है।

वॉर्नर और स्टीवन स्मिथ की शानदार पारियों और मैक्सवेल की धुआंधार पारी की मदद से ऑस्ट्रेलिया ने निर्धारित 50 ओवरों में 6 विकेट खोकर 417 रन बनाए। वॉर्नर के 133 गेंद में 178 रन और स्मिथ ने 98 गेंद में 95 रन बनाए । जवाब में पहली बार विश्व कप खेल रही अफगान टीम अब तक की सबसे बडी चुनौती का दबाव नहीं झेल सकी और 37.3 ओवर में 142 रन पर आउट हो गई। उसके लिए सबसे अनुभवी खिलाडी नवरोज मंगल ने सर्वाधिक 33 रन बनाए।
पिछले मैच में न्यू जीलैंड से हारी ऑस्ट्रेलिया ने बुधवार को विश्व कप में सर्वोच्च स्कोर का और सबसे बड़ी जीत का भारत का रेकॉर्ड तोड दिया। भारत ने 2007 में बरमूडा के खिलाफ विश्व कप मैच में पांच विकेट पर 413 रन बनाकर 257 रन से जीत दर्ज की थी।

वनडे क्रिकेट के इतिहास में भी यह दूसरी सबसे बडी जीत है। इससे अधिक अंतर से जीत का रेकॉर्ड न्यू जीलैंड के नाम पर है जिसने आयरलैंड पर 2008 में एबरडीन में 290 रन के अंतर से जीत दर्ज की थी। विश्व कप में पिछले छह दिन में यह तीसरा 400 से अधिक का स्कोर है । इससे पहले साउथ अफ्रीका ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ पांच विकेट पर 408 और आयरलैंड के खिलाफ चार विकेट पर 411 रन बनाए थे।

वॉर्नर के 133 गेंद में 178 रन और स्टीवन स्मिथ के 98 गेंद में 95 रन की मदद से आस्ट्रेलिया ने यह कारनामा किया । दोनों ने दूसरे विकेट के लिए रेकॉर्ड 260 रन की साझेदारी की जो वनडे क्रिकेट में दूसरे विकेट की साझेदारी का ऑस्ट्रेलियाई रेकार्ड है। इससे पहले रिकी पोंटिंग और शेन वॉटसन ने 2009 में सेंचुरियन में इंग्लैंड के खिलाफ 252 रन की साझेदारी की थी। वॉर्नर ने अपने चौथे वनडे शतक में 19 चौके और पांच छक्के लगाए जबकि स्मिथ ने आठ चौके और एक छक्का जड़ा। वॉर्नर विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया के लिए सर्वोच्च पारी खेलने वाले बल्लेबाज हो गए। उन्होंने मैथ्यू हेडन का 158 रन का रेकॉर्ड तोड़ा जो उन्होंने 2007 में वेस्टइंडीज के खिलाफ एंटीगा में बनाया था।

पिछले मैच में स्कॉटलैंड को हराकर विश्व कप में जीत का स्वाद चखने वाली अफगानिस्तान टीम के लिए यह मुकाबला अग्निपरीक्षा सरीखा था और 11वें ओवर में उसके तीन विकेट 46 रन पर गिर गए। ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज मिशेल जॉनसन ने शीर्षक्रम की चूलें हिला दी। उन्होंने 7.3 ओवर में 22 रन देकर चार विकेट लिए। पिछले मैच में 96 रन बनाने वाले समिउल्लाह शेनवारी और मंगल ने चौथे विकेट के लिये 48 रन जोडे जो अफगानिस्तान के लिए सबसे बडी साझेदारी थी। शेनवारी 17 रन बनाकर ऑस्ट्रेलियाई कप्तान क्लार्क की गेंद पर जॉनसन को कैच देकर आउट हुए। पुछल्ले बल्लेबाजों से किसी चमत्कार की उम्मीद करना बेमानी था। इस जीत के बाद चार बार का चैंपियन ऑस्ट्रेलिया चार मैचों में पांच अंक लेकर पूल ए में न्यूजीलैंड और श्रीलंका के बाद तीसरे स्थान पर है जबकि अफगानिस्तान चार मैचों में दो अंक लेकर छठे स्थान पर है।


Leave a Reply