Home » OTHER » 2022 तक प्रदेश में कोई युवक बेरोजगार नहीं रहेगा: हरीश रावत

2022 तक प्रदेश में कोई युवक बेरोजगार नहीं रहेगा: हरीश रावत

पिथौरागढ़।
अपने दो दिवसीय जनपद भ्रमण के दौरान मुख्यमंत्री हरीश रावत द्वारा आज जनपद पिथौरागढ़ मुख्यालय के स्थानीय रामलीला मैदान सदर में सतत विकास संकल्प यात्रा में प्रतिभाग किया। सरकार द्वारा शुरू की गई सतत विकास संकल्प यात्रा आज चम्पावत से विधायक हेमेेश खर्कवाल एवं जिला पंचायत अध्यक्ष चम्पावत खुशाल अधिकारी के नेतृत्व में जनपद पिथौरागढ़ पहुंची। जहाॅ रामलीला मैदान में एक जनसभा कार्यक्रम का आयोजन किया गया। सतत विकास संकल्प यात्रा में पहुंचे प्रदेश के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने उपस्थित जनता को संबोधित करते हुए कहा कि 2022 तक प्रदेश में कोई युवक बेरोजगार नहीं रहेगा, युवाओं को उद्यमों से जोड़कर उन्हें स्वरोजगार की ओर प्रेरित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हर हाथ को कुछ न कुछ काम अवश्य दिया जाएगा। सत्त विकास संकल्प यात्रा पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा कि गाॅवों को विकास की मुख्य धारा से जोड़ना और प्रदेश से गरीबी को पूर्णतः खत्म करना ही इस संकल्प यात्रा का उद्देश्य है। उन्होंने कहा कि गरीबी एक अभिशाप है और निरंतर विकास कार्यों के मध्यनजर वर्ष 2020 तक गरीबी रेखा से नीचे कोई नहीं रहेगा। जनता को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार विकास को आगे बढ़ाने हेतु सतत प्रयास करती आ रही है जिसमें प्रदेश की जनता के कल्याण हेतु एवं प्रदेश के विकास हेतु सरकार द्वारा अनेक योजनाएं चलाई जा रहीं हैं।107
सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी देते हुए सीएम ने कहा कि सरकार द्वारा अनेक पेंशन योजनाओं पात्र व्यक्तियों को दी जा रही है। वर्तमान में विभिन्न पेंशन योजनाओं केा 200 से बढ़ाकर 1000 रूपया कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि वर्तमान तक 7 लाख 25 हजार व्यक्तियों को पेंशन दी जा रही हैं जिसे चुनाव तक 10 लाख से अधिक लोगों को विभिन्न पेंशन से जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि डंगरिया, मंगल गीत गाने वाली महिलाओं को भी पेंशन दिए जाने हैं। इसके अतिरिक्त मा0 मुख्यमंत्री जी ने कहा कि पेंशन दिये जाने वाले राज्यों में उत्तराखण्ड राज्य सम्पूर्ण भारत में सर्वाधिक पेंशन देने वाला राज्य है एवं उन्हांेने कह कि उत्तराखण्ड राज्य राष्ट्रीय प्रति व्यक्ति आय के क्षेत्र में देश के अंतर्गत शीर्ष 6 राज्यों में भी सम्मीलित हो चुका है। इसके अतिरिक्त वर्ष 2017 तक उत्तराखण्ड चैबीस घंटे बिजली देने वाला राज्य भी बन जाएगा व वर्ष 2018 तक सभी ग्राम सड़कों से जुडेंगे 1000 नई सड़कों का निर्माण किया जाएगा। जनपद के विकास में क्षेत्रीय विधायक मयूख महर द्वारा किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा करते हुए उनके द्वारा किए गए विकास कार्यों को सीमान्त जनपद के विकास हेतु महत्वपूर्ण बताया।
इस अवसर पर, विधायक मयूख महर, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रकाश जोशी, उत्तराखण्ड संस्कृति धर्मस्व तीर्थाटन विकास परिषद् के उपाध्यक्ष हरीश उपाध्याय, कांग्रेस जिलाध्यक्ष मुकेश पंत, नगरपालिका अध्यक्ष जगत सिंह खाती, जिलाधिकारी रंजीत कुमार सिन्हा उपजिलाधिकारी सदर संतोष कुमार पाण्डेय, पुलिस अधीक्षक, अजय जोशी, समेत स्थानीय जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक एवं जनता उपस्थित थी।


Leave a Reply