Home » गडवाल मंडल » गंगोत्री-यमुनोत्री आने वाले यात्रियों का होगा पंजीकरण

गंगोत्री-यमुनोत्री आने वाले यात्रियों का होगा पंजीकरण

उत्तरकाशी। गंगोत्री और यमुनोत्री जाने वाले यात्रियों का इस साल बॉयोमैट्रिक पंजीकरण होगा। इसके लिए यमुनोत्री हाईवे पर दोबाटा बड़कोट और गंगोत्री हाईवे पर पंजीकरण केंद्र बनाए जाएंगे।

Gangotri-Wallpaper16101सोमवार को जिला सभागार में जिलाधिकारी इंदुधर बौड़ाई की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में यात्रा तैयारियों की समीक्षा की गई। जिलाधिकारी ने पेयजल, स्वास्थ्य, विद्युत, व सुरक्षा व्यवस्था आदि मूलभूत सुविधाओं को 10 अप्रैल तक दुरुस्त किये जाने को संबंधित विभागों को निर्देशित किया गया। यात्रा मार्ग चौबीस घंटे यात्रियों के लिए खुले रहे इसके लिए बीआरओ व लोक निर्माण विभाग को कड़े निर्देश दिए । चारधाम यात्रा के दौरान सभी तीर्थ यात्रियों को बायोमैटिंक पंजीकरण होना है इसके लिए यमुनोत्री मार्ग के दोबाट एवं गंगोत्री रूट पर गंगोरी को चयनित किया गया है

जहां पर सभी आवश्यक व्यवस्था करने के निर्देश पर्यटन विभाग को दिए।

यात्रा सुव्यवस्थित ढंग से संचालित हो इसके लिए सेक्टर मजिस्ट्रेट भी तैनात किए जाएंगे। हर पच्चीस किमी के दायरे में एक सेक्टर मजिस्ट्रेट तैनात होंगे जो यात्रा से जुड़ी सभी गतिविधियों पर नजर रखेंगे। बैठक में गंगोत्री हाईवे की स्थिति पर बीआरओ ने बताया कि चिन्यालीसौड़ में सड़क को दुरुस्त किया जा रहा है, नालूपानी में सड़क का चौड़ीकरण कार्य कर लिया गया है और सड़क के उपर जो लूज मलबा हैे उसे भी हटाने का कार्य किया जा रहा है।

रतूड़ीसेरा, बंदरकोट एंव बड़ेथी में कार्य चल रहा है जो पांच अप्रैल तक पूरा हो जाएगा। बैठक में एसडीएम बीके मिश्रा, पुलिस अधीक्षक जेआर जोशी, सीडीओ जीएस रावत, एसडीएम हरगिरी, विजयनाथ शुक्ल, केके सिंह, आरके पांडे, बीआरओ के कमान अधिकारी एस. बनर्जी, नीरव टुली, प्रभागीय वनाधिकारी गिरीश रस्तोगी, पर्यटन अधिकारी के.एस. नेगी, सीएमओ डॉ. मयंक उपाध्याय समेत गंगोत्री मंदिर समिति और होटल एसोसिएशन के पदाधिकारी मौजूद रहे।


Leave a Reply